वेब सीरीज ‘जौनपुर’ में निभाई मेरी एक पॉलिटिशन की भूमिका में लोगो का खूब प्यार मिल रहा है- जाहिद एम शाह

राजू बोहरा @ नेशनल समाचार, नयी दिल्ली

इन दिनों उत्तर प्रदेश की पृष्ठभूमि पर बनी वेब सीरीज ‘’जौनपुर’’ की दर्शको में काफी चर्चा हो रही है जो हाल ही में डिश टीवी ‘’वाचो’’ ओटीटी चैनल पर रिलीज़ हुई है। इसकी कहानी राजनीतिक और अपराधिक तानेबाने पर केंद्रित है जिसमे एक घाग पॉलिटिशन तय्यब कुरैशी की भूमिका जानेमाने लेखक-निर्देशक जाहिद शाह ने निभाई है जो लोगो में काफी पॉपुलर हो रही है। आइये एक खास मुलाकात करते है ‘’जौनपुर’’ वेब सीरीज के तय्यब कुरैशी यानी अभिनेता जाहिद एम शाह से।

 शाह साहब सबसे पहले दर्शको आप अपने बारे में बताये की बॉलीवुड में आपकी किस तरह और कब शुरुआत हुई ?

मै दिल्ली से हूं बचपन से ही कला के प्रति रुझान था जब मै 4-5 साल का था तब डुगडुगी बजाकर लोगों को तमाशा दिखाया करता था। 22 साल की उमर में दिल्ली रंगमंच ज्वाइन किया मेरे पहले गुरु श्री रंजीत कपूर हैं जिन्होंने मुझे मोलियर के प्ले ‘’कव्वा चला हंस की चाल’’ मे दर्जी का रोल दिया। वक्त के साथ एक्टिंग छूटती चली गई मेरी रुचि लेखन और निर्देशन की और होती चली गई। मैंने दूरदर्शन के लिए कई धारावाहिकों का लेखन और निर्देशन किया, फिर मै 2001 मे मुम्बई आ गया जहां मुझे सायरा बानो जी और दिलीप कुमार साहब ने ‘’अल्लाह मेरी तौबा’’ कॉमेडी टीवी सीरियल से फिल्म इंडस्ट्री में ब्रेक दिया, मै खुशकिस्मत हूं कि मै आज भी उस परिवार से जुड़ा हूं। चार्ली चैपलिन ने कहा है कि कलाकार और मूर्ख पैदा होते हैं शायद मै भी उन्ही मे से हूं….हा हा हा

हाल में रिलीज़ आपके द्वारा अभिनीत एक वेब सीरीज जौनपुर की इन दिनों काफी चर्चा हो रही है जिसमे आपने घाग पॉलिटिशन तय्यब कुरैशी की भूमिका को निभाया है जिसकी काफी चर्चा हो रही उसके बारे में विस्तार से बताये ?

इस शो की परिकल्पना मैंने की थी फिर इसको राइटर कुमार सिद्धार्थ ने लिखा, इसमें गिरधर, बाबू, दाऊद, एसपी मंडल वगेरह की कास्टिंग के बाद एक महत्वपूर्ण कैरेक्टर तय्यब कुरैशी बचा, इसमें किसको लिया जाए जो आजम खान की तरह दिखे और उसका अंदाज भी वही हो इसी पर विचार विमर्श चल रहा था कि *निर्देशक सतीश शुक्ला जी बोले कि शाह जी इस रोल को आप कर रहे हैं, मै तो घबरा गया कि मै कैसे करूंगा इतना महत्वपूर्ण रोल मगर हमारे डायरेक्टर सतीश शुक्ल जी को विश्वास था कि मै कर लूंगा इसलिए चरित्र की सफलता का श्रेय सतीश शुक्ला जी को जाता है।

‘’जौनपुर’’ पर वेब सीरीज बनाने का आडिया आप लोगो को कैसे आया जबकि जौनपुर से संबंधित कुछ वेब सीरीज का निर्माण शायद पहले ही हो चूका था ?

मै अक्सर बनारस जाता रहता हूं आध्यात्मिक नगरी है, मन को शांति मिलती है, वहां काफी लोगों को कहते सुना था कि अपने आपको मुन्ना बजरंगी समझता है क्या, यही सुन सुन कर मन में उत्सुकता जागी की यह मुन्ना बजरंगी क्या है इतेफाक यह हुआ कि उनका एक रिश्तेदार मिल गया उसने मुझे मुन्ना की पूरी कहानी सुनाई जो बहुत रुचिकर थी बस फिर मैंने जौनपुर की स्क्रिप्ट पर काम शुरू कर दिया और वेब सीरीज आपके सामने है। एक विषय पर बहुत सी फिल्में बनती हैं जौनपुर पर भी बनी होंगी मेरी जानकारी में नहीं है।

यह वेब सीरीज जौनपुर दर्शक को काफी पसंद कर रही है इसकी सफलता का मुख्य कारण क्या मानने आप?

 देखिए उत्तर प्रदेश कुख्यात गैंगस्टर और बाहुबलियों के लिए सदा से मशहूर रहा है, बड़े बड़े बदमाशों का इतिहास इस प्रदेश से मिलता है, दर्शक आजकल इसी तरह की फिल्म और वेब सीरीज को देखना ज्यादा पसंद कर रहे हैं जिसमे एक्शन, ड्रामा, मर्डर वेगरह हों। चूंकि जौनपुर वेब सीरीज का निर्माण और बाबू बजरंगी के रोल में अनुज शर्मा ने बहुत अच्छा काम किया है सतीश शुक्ला का निर्देशन जबरदस्त है वो भी इसकी सफलता के कारण है।

वेब सीरीज को आप किस नजरिये से देखते है क्या इसे इसे नए ज़माने का सिनेमा कहा जाये ?

कोरॉना काल के इस समय मे जब मनोरंजन के सभी साधन बंद है तब सिर्फ वेब सीरीज ही एक मात्र जरिया है मनोरंजन का। हां वेब सीरीज को आप इस नए ज़माने का सिनेमा भी कह सकते है।

आपके आने वाले नए प्रोजेक्ट कौन कौन से है उनमे आप किस रूप में दिखेगे ?

मै अभी दो वेब सीरीज धारा 370 और महारानी मे नकारत्मक भूमिका निभा रहा हूं धारा 370 में मेरी भूमिका हाफिज सईद जैसी है और महारानी में मै हिजड़े की भूमिका में हूं इनकी शूटिंग फरवरी मे शुरू हो रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Enable Notifications    OK No thanks